HomeAgraउत्तर प्रदेश में कालाबाज़ारी रोकने के लिए प्रशासन के कदम

उत्तर प्रदेश में कालाबाज़ारी रोकने के लिए प्रशासन के कदम

उत्तर प्रदेश में प्रशासन ने कालाबाज़ारी रोकने के लिए राशन, सब्जी, फल और दालों के दाम तय किए

उत्तर प्रदेश मे कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलो के कारण देश में लॉकडाउन घोषित किया गया लेकिन इसी के चलते जमाखोरी भी बढ़ गयी है। दुकानदार आम लोगो से जरुरत की चीज़ो के मनमाने दाम वसूल रहे है। जमाखोरी को कम करने के लिए और ज्यादा दाम वसूलने पर रोक के लिए लखनऊ, आगरा और लखीमपुर जिला प्रशाशन से सब्ज़ी, फल से लेकर अनाज और दालों के दाम तय कर दिए है। इससे ज्यादा मूल्य लेने वालो के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने जैसे ही लॉकडाउन की घोषणा की तब से शहरों में सब्जियाँ भी महंगी हो गयी है। आलू, हरी मिर्च, और कटहल आदि तो दोगुने दामों पर मिल रहे है। लाखो का आरोप है की दुकानदारों ने कालाबाज़ारी के कारण दाम बढ़ा रखे है। लेकिन थोक कारोबारियों की दलील है की लॉकडाउन के कारण आसपास के किसानो से सब्ज़िया नहीं मिल पा रही है। साथ ही ट्रांसपोर्ट पर भी काफी असर पड़ा है। यही कारण है की सब्ज़ी के अलावा फल के दाम भी बढ़ते जा रहे है। 

लखनऊ में कुछ इस प्रकार रहेंगे दाम:

चीनी : 38

सरसो तेल : 105 से 110
आलू : 25 से 26
प्याज़ : 25 से 26
टमाटर : 28 से 30
सेब : 80 से 100
अरहर दाल : 88 से 92
चना दाल : 60 से 65
मूंग दाल : 100 से 105
मसूर दाल : 58 से 60
आटा : 28 से 30
चावल : 27
पिसी हल्दी : 230
राज़मा : 100

आगरा में कुछ इस प्रकार रहेंगे दाम:

सोर्स : – Google, UC

कोई भी पैकेट बंद सामान MRP से ज्यादा नहीं बेचा जायेगा।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments