जानिए अंडरवियर का रोचक इतिहास, कैसे इसकी शुरुवात हुई एवं यह प्रचलित हुई

अंडर वियर के इतिहास के इसकी शुरुआत 7000 साल पहले हो चुकी थी। जब इसके कुछ अवशेष मिले थे। यानी कि दोस्तों बताया जाता है कि 7000 वर्ष पूर्व लोग इसका इस्तेमाल किया करते थे। तब इसका इस्तेमाल शिकार करने के लिए किया जाता था और इसे पहन के शिकार करने में ज्यादा आसानी होती थी।

adimanav

जैसे-जैसे दौर आगे बढ़ते गए वैसे-वैसे अंडरवियर के पहनावे में भी बहुत सारे बदलाव आते गए। रोम के युवक युवती द्वारा लंगोट पहनी जाती थी। जो उन्हें युद्ध करने में बहुत सहायता प्रदान करते थे। इस लंगोट को रूम में एक विचित्र प्रकार का नाम दिया गया था। जिसे Subligaculum कहा जाता था, लेकिन फिर भी हम इसे अंडरवियर के ही नाम से जानते हैं।

अब दोस्तों हम तेरहवीं शताब्दी  के बात कर लेते हैं, इस समय अंडरवियर का एक नया दौर आया। इस समय की अंडरवियर ढके हुए एवं ढीले बनाए जाते थे। लेकिन इस प्रकार के इसका ज्यादा चलन नहीं चला, क्योंकि इस अंडरवियर के लिए जो कपड़ा इस्तेमाल किया जाता था। वह कपड़ा बहुत ही ज्यादा खुजली पैदा करता था। इसीलिए इस अंडरवियर का ज्यादा प्रयोग नहीं हो पाया।

अब जैसे ही समय आगे बढ़ता गया, वैसे ही पुनर्जागरण काल आया। इस काल में दोस्तों अंडरवियर में एक नया अविष्कार हुआ और इस समय जो अंडर वियर बनी वह बहुत ही टाइट बनाई गई, जिसमें पेशाब करने के लिए एक फ्लिप दिया गया। जिसके द्वारा हम आसानी से उसमें से पेशाब कर सकते थे और यह अंडरवियर काफी चलन में आई ।

ऐसी ही जानकारिओं के लिए हमारे Whats App ग्रुप से जुड़े।Whats App

अब जैसे जैसे समय बीत रहा था। वैसे वैसे अंडरवियर में अंतर आ रहे थे। अब यह सूती कपड़े की बनाई जाने लगी और यह काफी आरामदायक (Comfortable)  होती थी और इनमें जो सबसे ज्यादा पसंदीदा अंडर वियर होता था, उनकी लंबाई घुटने तक होती थी। जो कि उस समय काफी पसंदीदा थी। इन अंडरवियर की लोकप्रियता तो तब बड़ी जब एक बॉक्सर जॉन एल सल्लिवान ने अपनी एक बॉक्सिंग फाइट में इसे पहना था। जब से अंडरवियर के नाम में एक नया परिवर्तन आया और इसे बॉक्सर के नाम से भी जाने जाना लगा।

अंडरवियर के इतिहास में एक नया दौर तब आया जब औद्योगिक क्रांति हुई और जब साइकिल का आविष्कार हुआ।  इस नई अंडर वियर का नाम भी परिवर्तित हो गया और इससे जॉकस्ट्रैप के नाम से भी जाना जाने लगा। लेकिन जैसे ही इसका निर्माण हुआ काफी देश इस पर अपना हक दिखाने की कोशिश करने लगे। लेकिन सच्चाई यही है, कि सन् 1874 में शिकागो की एक कंपनी ने साइकिल चलाने वालों के लिए सुविधा हो इसके लिए इसका निर्माण किया था।

जब 19 वी सदी का दौर आया, तब अंडरवियर के इतिहास में “हार्ड कैप सपोर्ट” वाली नई अंडरवियर ने जन्म लिया और यहां अंडरवियर बनाने वाली पहली कंपनी जो थी। वह “गेल्फ इलास्टिक होजरी” थी। जिसके मालिक एक कैनेडियन व्यक्ति थे। इस कंपनी के संस्थापक के बेटे जैक ने इस अंडरवियर की डिजाइन तैयार की थी। इस कंपनी ने इस अंडर वियर पर अपना पेटेंट 1927 में लगाकर इसे बेचना शुरू कर दिया था। कुछ जानकारी यह भी कहते हैं कि अंडरवियर की बिक्री पहले से ही शुरू हो गई थी। लेकिन इसके कारण काफी बीमारियां पैदा हो चुकी थी। इसीलिए इसमें कुछ सुधार करके 1927 में इसमें पैटेट लगाकर इसे फिर से भेजना शुरू कर दिया।

लेकिन दोस्तों जब 1935 में जॉकी अंडरवियर निकला, तब से अंडरवियर का काफी चलन हो गया और अंडरवियर का बिजनेस भी काफी बढ़ चुका है। यदि हम अंडर वियर के बिजनेस की बात करें। तो इसकी पूरे विश्व में 500 करोड़ तक की बिक्री हो जाती है।

इसी तरह हम आपके लिए रोज नए अपडेट्स लेकर आते रहेंगे जिससे आप कई प्रकार की जानकारियां मिल सके। इसी के साथ आप हमारे साथ बने रहिए मिलते हैं अगली पोस्ट में।

ऐसी ही जानकारिओं के लिए हमारे Telegram ग्रुप से जुड़े ।
telegram-button.

धन्यवाद 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *