किसानों को मिलेंगे 3000 रूपए प्रति माह इस योजना के जरिये! Bag Namami Gange Yojana

दोस्तों जैसा की आप जानते है जहां एक तरफ भारत देश की सरकार किसान भाइयो के हित के लिए नई-नई योजनाएं ला रही है, वही दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश की सरकार भी किसान भाइयो के कल्याण को लेकर चिंतित है। इसी चिंता की वजह से उत्तर प्रदेश की सरकार ने अपने राज्य के किसानों के लिए Bag Namami Gange Yojana की शुरुआत की है। इस योजना के अनुसार जो भी किसान गंगा नदी के किनारे अपने खेतों पर बाग लगा कर उत्तर प्रदेश को एक स्वस्थ एवं स्वच्छ प्रदेश बनाने में मदद करता है, उसे उत्तर प्रदेश की सरकार 3000 रूपए प्रति माह की रकम मुहैया कराएगी।

Bag Namami Gange Yojana
Bag Namami Gange Yojana : Ecyber Planet

3000 रूपए प्रति माह “बाग नमामि गंगे योजना” के लिए देगी सरकार

इस योजना के अनुसार यदि कोई किसान भाई अपने खेतों में बाग़ लगाना चाहता है तो सरकार उनको प्रति महीना 3000 रूपए देगी, एवं यह रकम उन किसान भाइयो को लगातार 3 साल तक सरकार के द्वारा प्रदान की जायेगी। Bag Namami Gange Yojana के अनुसार गंगा नदी के किनारे वाली भूमि में लगेंगे बाग़।

ऐसी ही जानकारियो के लिए हमारे Whats App ग्रुप से जुड़ेWhats App

शासन के द्वारा गंगा नदी के किनारे बसे गांवों को नमामि गंगे योजना के तहत पहले ही शामिल करा जा चूका है। अतः शासन द्वारा आदेश जारी किया गया है कि गाँवो में नमामि गंगे योजना के तहत बाग लगाए जाएंगे। यह बाग़ अमरुद, आम, नीबू, बेर आदि फलों को किसान अपनी स्वेच्छा से लगा सकेंगे। बाग लगाने की जिम्मेदारी उद्यान विभाग को सौंपी जा चुकी है।

Bag Namami Gange Yojana के लिए आवेदन कैसे करे।

सरकार ने इस योजना के लिए कोई ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया नहीं रखी है। यदि किसान भाई अपने खेतों में बाग लगाना चाह रहे है, तो उन्हें खाद्यान्न विभाग में जाकर संपर्क करना होगा, तथा योजना का लाभ उठाने के लिए वहां पर फॉर्म भर कर अवगत कराना होगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान को विभाग में संपर्क करना होगा। किसान के द्वारा आवेदन जमा करते ही उसके खेत में बाग लगाने के लिए आगामी प्रक्रिया शुरू कर दी जाती है। शासकीय अफसरों ने किसान भाइयो से इस सरकारी योजना का अधिक से अधिक संख्या में लाभ उठाने का आग्रह किया है। Bag Namami Gange योजना के तहत बाग लगने के बाद जनपद में बाग का रकबा बढ़कर 14500 हेक्टेयर हो जाता है, जबकि अभी तक जनपद में बाग का रकबा 14000 हेक्टेयर है।

तो दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट में जरूर बताएं।

ऐसी ही जानकारियो के लिए हमारे Telegram ग्रुप से जुड़े ।
telegram-button.

धन्यवाद 

Also Read: –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *