पाये सरकार से 1.80 लाख रुपए गौशाला खोलने के लिए, अभी आवेदन करे! Gaushala Yojana

जैसा की हम सभी जानते है भारत सरकार देश के हित लिए अनेको प्रभावी yojana लाती रहती है। ठीक उसी तरह Uttar Pradesh के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी के जनता को दिए वादे के अनुसार Uttar Pradesh का प्रशासन गौ संरक्षण के कार्य में जुटा है। शासन से दिशा निर्देशों के मिलने के बाद आवारा एवं बेघर पशुओं को संरक्षण दिलाने की मुहिम शुरू हो गई है।

Gaushala Yojana
Gaushala Yojana

संरक्षण एवं गोरक्षा को लेकर Pradesh के प्रत्येक ग्राम पंचायत एवं निकायों में Gaushala स्थापित करने की बात उजागर हुई है। सरकार से मिली जानकारियो के मुताबिक गौशालाओं में आने वाली गायों की देखभाल के लिए शासन Uttar Pradesh पशुपालन विभाग के माध्यम से गौशाला संचालकों को अनुदान देगा। तो आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे की इस yojana के माध्यम से आप कैसे गौ रक्षा के लिए Gaushala खोल सकते है।

Gaushala कौन खोल सकता है?

Uttar Pradesh के पशुपालन मंत्री एस. पी. सिंह बघेल के प्रस्ताव के तहत Gaushala  कोई भी व्यक्ति या कोई भी किसान भाई खोल सकते है। Gaushala ऐसी जगह होनी चाहिए जहा लगभग 200 गोवंश को रखने की सुविधा हो। प्रत्येक गोवंश के देखभाल एवं संरक्षण के लिए राज्य सरकार अनुदान देगी।

ऐसी ही जानकारियो के लिए हमारे Whats App ग्रुप से जुड़ेWhats App

Gaushala के लिए कितनी जमीन चाहिए:

Uttar Pradesh के पशुपालन मंत्री एसपी सिंह बघेल ने प्रदेश सरकार को एक प्रस्ताव सौंपा है। जिसमे गौ बचाव एवं संरक्षण के लिए निजी स्तर पर Gaushala खोलने की बात कही गई है। इसके लिए जिस भी व्यक्ति या किसान के पास 5 बीघा जमीन है, वह Gaushala  खोल सकते हैं। जिसमें न्यूनतम 200 गोवंश रखने की जगह एवं सुविधा हो।

Gaushala में गायो के लिए ये करना होगा :

यदि आप गौशाला स्थापित करते हो। तो आपको उस Gaushala में गोवंश के लिए चारे पानी का इंतज़ाम करना होगा। आप इसके लिए आप दूसरे के खेत से या अपने खेत से चारे की प्रबंध कर सकते हो, एवं गौवंश की अच्छे से देखभाल भी करनी होगी।

Goushala Yojana में मिलने वाला अनुदान :

गौशाला खोलने पर Government आपको अनुदान देगी। आपको कितना अनुदान मिलना है यह गायो की संख्या पर निर्भर करेगा। प्रत्येक गोवंश के संरक्षण एवं पालन-पोषण के लिए Uttar Pradesh सरकार 30 रूपए प्रतिदिन के हिसाब से आपको अनुदान मुहैया कराएगी।

इस yojana के मुताबिक अगर आप आप 200 गोवंश रखते हैं। तो Government आपको रोजाना ₹6000 रूपए देगी। इस हिसाब से एक महीने में 200 गोवंश के पालन एवं सुरक्षा के लिए Government द्वारा आपको 1.8 लाख रुपए दिए जाएंगे।

गौ संरक्षण केंद्र खोलने का उद्देश्य:

Gaushala खोलने का प्रमुख उद्देश्य है की बेघर एवं आवारा पशुओं को घर प्रदान करना है। एवं किसान गोवंश और अन्य आवारा पशुओं द्वारा फसल खराब किए जाने से परेशान रहते हैं।

इसी वजह से State Government ने प्रत्येक ग्राम पंचायत में Gaushala  खोलने का निर्णय लिया है। इस yojana के माध्यम से बेरोजगारों को कमाई का मौका भी मिलेगा, गायो को अपना घर मिलेगा एवं किसानों को बड़ी राहत मिलेगी।

क्या प्रत्येक ग्राम पंचायत में खुलेगी Gaushala :

Uttar Pradesh सरकार ने हर एक जिले में गौ सरंक्षण केंद्र के निर्माण की घोषणा की है। Government का मानना है कि एक Gaushala को तैयार करने में लगभग 1.2 करोड़ रुपए की लागत आएगी। हमें प्राप्त जानकारी के अनुसार योगी Government ने हाल ही में सभी निकायों और पंचायतों में गौ सेवा केंद्र खोलने की घोषणा की है।

Gaushala खोलने के लिए कैसे करें आवेदन:

Uttar Pradesh का कोई भी व्यक्ति Gaushala  खोलने के लिए विकास भवन स्थित मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी कार्यालय से आवेदन पत्र लेकर Apply कर सकता है। गौशाला पंजीकरण (Gaushala Registration) के लिए इच्छुक विभाग के माध्यम से Apply कर सकते एवं आप इसकी और अधिक जानकारी इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर पा सकते है। Gaushala Registration कराने के लिए आवेदक के पास अपनी जमीन होना अति आवश्यक है।

http://ahgoshalareg.up.gov.in/eDist/Home.aspx

तो दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट में जरूर बताएं।

ऐसी ही जानकारियो के लिए हमारे Telegram ग्रुप से जुड़े ।
telegram-button.

Also Read: –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *