सरकार दे रही Jan Aushidhi Kendra खोलने के लिए 2.5 लाख रुपए की सहायता, आज ही करे हैं अप्लाई!

आज हम जानेंगे एक ऐसी अनोखी योजना के बारे में जिसमे आप लोगो की मदद कर के लाखों रूपए पा सकते है। भारत सरकार ने संपूर्ण भारत में सरकारी मेडिकल स्टोर (Government Medical Store) या Jan Aushadhi Kendra खोलने के लिए एक योजना की शुरुवात की है। इस Scheme के तहत आप सरकारी मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं, इस मेडिकल स्टोर के लिए सरकार आपको 2.5 लाख रूपय की आर्थिक सहायता भी देगी। दोस्तों इस पोस्ट को आगे बढ़ाने से पहले में आपको एक बात बताना चाहूंगा की 2.5 लाख रूपय भारत सरकार आपको एक साथ नहीं देने वाली। यह आपको हर महीने Incentive के रूप में दिया जाएगा। तो यह भी जान लेते है कि यह इंसेंटिव कैसे दिया जायेगा।

Jan Aushadhi Kendra
Jan Aushadhi Kendra : Ecyber Planet

केंद्र सरकार ने वर्ष 2015 में PMBJK (प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र) योजना की शुरुआत की थी। इस योजना की मदद से सरकार आम लोगों तक कम कीमत में सस्ती दवाएं पहुंचाना चाहती है। आम जनता को इन औषिधि केंद्रों पर मार्केट की तुलना में 50 से 90 प्रतिशत तक सस्ती दवाइयां मिलती हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अभी देश में 726 जिलों में 6300 से भी ज्यादा जन औषधि केंद्र खुल चुके है।

कैसे देगी सरकार Jan Aushadhi Kendra के लिए 2.5 लाख रूपए:

केंद्र सरकार की तरफ से आपको 2.5 लाख रुपए Incentive के तौर पर दिए जाएंगे। मतलब की जब आप अपना जन औषिधि केंद्र चालू कर लेते हैं, तो सरकार आपको हर महीने 20 परसेंट कमीशन के साथ 10,000 रूपए इंसेंटिव भी देगी। यह ₹10,000 रूपए का इंसेंटिव आपको आने वाले 25 महीनो तक मिलेगा। इसके अनुसार आने वाले 25 महीने आपको 10 -10 हजार रूपए दिए जाएंगे, जिससे कि आपके खाते में कुल 2.5 लाख रूपय पहुंच जाएंगे। तो ऐसा सरकार का प्लान है की पूरा पैसा एक साथ ना देकर उसको किस्तो में दिया जाए।

ऐसी ही जानकारियो के लिए हमारे Whats App ग्रुप से जुड़ेWhats App

कितनी और कैसे होगी आपकी कमाई जन औषिधि केंद्र से:

दोस्तों अगर आप जन औषिधि केंद्र खोलते हैं, तो आपको सरकार आपका केंद्र खोलने के लिए लगाया पूरा पैसा वापस कर रही है। यह तो आप समझ गए होंगे। अब इसके बाद आप जन औषिधि केंद्र से कैसे कमाई करेंगे यह यह जानते है।
दोस्तों आप अपने मेडिकल स्टोर (Jan Aushidhi Kendra) से जितनी भी दवाइयां 1 महीने में बेचते हैं, उसका 20 प्रतिशत आपको सरकार द्वारा कमीशन मिलता है। अगर हम 1 महीने में 3 लाख की दवाइयां बेच देते हैं, तो 3 लाख का 20 प्रतिशत कमीशन 60,000 रूपए होता है। जो कि आपकी अपनी कमाई होगी। अब यह आप पर निर्भर करता है कि कैसे आप अपनी दुकान की सँभालते है?, कैसे काम करते हैं?, कैसे इतनी बिक्री करते हैं?, कैसे Customer को डील करते हैं, या कैसी आप सेवाएं देते हैं।

तो जैसा मैंने आपको ऊपर ही बताया था कि आप इसमें काम करके लाखो रूपए कमा सकते है। तो आप जितना ज्यादा आप दवाइयों की बिक्री करेंगे, उतनी ज्यादा मार्केट में अपनी पहचान बनाएंगे। उस नाम और काम के हिसाब से आप यहां पर महीनो के लाखों रुपए कमा सकते हैं।

Jan Aushidhi Kendra खोलने के लिए पात्रता:

जन औषिधि केंद्र खोलने के लिए केंद्र सरकार ने तीन category बनाई हैं।

  1. पहली कैटेगरी में :
    वह व्यक्ति जो फार्मासिस्ट, रजिस्टर मेडिकल प्रैक्टिशनर या डॉक्टर है वह यह जन औषिधि केंद्र खोल सकेगा।
  2.  दूसरी कैटेगरी में :
    प्राइवेट हॉस्पिटल, ट्रस्ट, NGO (Non Government Organisation), सोसायटी और Self Help Group जन औषिधि केंद्र खोल सकते हैं।
  3. तीसरी कैटेगरी में :
    राज्य सरकारों द्वारा nominate की गई एजेंसी यह काम कर सकती हैं।

दुकान खोलने के लिए आपके पास 120 वर्ग फुट एरिया में दुकान होनी चाहिए। शुरुवात में Jan Aushidhi Kendra खोलने वालों के लिए सरकार 650 से ज्यादा दवाइयां उपलब्ध कराएगी।

 

Jan Aushadhi Kendra की मुख्य विशेषताएं :

  1.  प्रचार और शिक्षा के माध्यम से जेनरिक दवाइयों के बारे में लोगो के मन में जागरूकता पैदा की जाएगी।
  2.  यहां पर अच्छी गुणवत्ता वाली जेनरिक दवाईयां कम एवं किफायती दामों पर लोगो को उपलब्ध कराई जाएंगी।
  3.  देश में रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।
  4.  ‘बाजार हस्तक्षेप नीति’ के द्वारा दवाओं की कीमतों में कमी लाने के लिए बाजार को प्रेरित किया जाएगा।

जन औषिधि केंद्र खोलने की प्रक्रिया:

कोई भी व्यक्ति, एनजीओ (Non Government Organization) या फर्म जिसके पास 120 वर्ग फुट की दुकान है, तथा एक फार्मासिस्ट है। वह Jan Aushidhi Kendra खोल सकता है। आवेदन की प्रक्रिया पूरी तरह से Online है, तथा विस्तृत जानकारी के लिए आप janaushadhi.gov.in वेबसाइट पर जा कर पूरी जानकारी ले सकते हैं। अभी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अभी देश में 726 जिलों में 6300 से ज्यादा जन औषधि केंद्र हैं।

तो दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट में जरूर बताएं।

ऐसी ही जानकारियो के लिए हमारे Telegram ग्रुप से जुड़े ।
telegram-button.

धन्यवाद 

Also Read: –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *