करे जैविक खेती और पाये सरकार से 11,500 रूपए प्रति एकड़ का अनुदान! Jaivik Kheti Protsahan Yojana

Javik Kheti Protsahan Yojana की शुरुवात वर्ष 2017-18 में जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए बिहार सरकार द्वारा हुआ थी। इस योजना के तहत जैविक करीडोर का निर्माण किया जा रहा है। जैसा की आप सभी जानते हैं कि जो किसान भाई आज रसायनिक (Chemical) पदार्थों पर आधारित खेती कर रहे हैं। वह आने वाले भविष्य के लिए बहुत ही घातक साबित होगी। इसी बात को मद्देनज़र रखते हुए बिहार सरकार ने जैविक खेती प्रोत्साहन योजना का शुभारंभ किया है। जिसके अनुसार किसान भाइयो को नए तरीको से जैविक खेती कैसे करें?, तथा जैविक खेती के फायदे कैसे होते हैं? यह जानकारी दी जाएगी। जैविक खेती के अनुसार बिहार सरकार किसान भाइयो को प्रति एकड़ 11,500 रूपए का अनुदान भी प्रदान करेगी।

Javik Kheti Protsahan Yojana
Javik Kheti Protsahan Yojana : Ecyber Planet

Javik Kheti Protsahan Yojana की अधिक जानकारी?

जैविक खेती के लिए बिहार सरकार द्वारा Ganga नदी के किनारे जैविक कॉरिडोर विकसित किया जायेगा। बिहार सरकार ने योजना के पहले चरण में भागलपुर से पटना तक के गंगा नदी के किनारे पड़ने वाले गाँव तथा दनियावाँ से बिहारशरीफ तक के राजकीय / राष्ट्रीय मार्ग के किनारे बसे गाँवों में सरकार द्वारा जैविक कोरिडौर का निर्माण किया जायेगा। बिहार सरकार द्वारा Javik Kheti Protsahan Yojana अंगीकरण एवं प्रमाणीकरण के कार्य हेतु पहले चरण में नालंदा, पटना, वैशाली, बेगुसराय, समस्तीपुर, खगडि़या, भागलपुर, मुंगेर जिलों में गंगा नदी के किनारे के गाँवों / क्षेत्रो में जैविक कोरिडौर विकसित किया जायेगा।

ऐसी ही जानकारियो के लिए हमारे Whats App ग्रुप से जुड़ेWhats App

Jaivik Kheti Protsahan Yojana के माध्यम से कैसे मिल रही लोगो को मदद-

बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार जी ने अपने इंटरव्यू के दौरान कहा कि Jaivik कृषि क्रांति की पहल करने वाला केडिया (Kedia) गांव अब किसी भी परिचय का मोहताज नहीं है। यह गांव संपूर्ण देश को जैविक खेती करने के लिए प्रोत्साहित कर इसे करने की राह दिखा रहा है। प्रेम कुमार जी ने जैविक कॉरिडोर के बारे में बताते हुए कहा की, “बिहार सरकार केंद्र सरकार के साथ मिलकर Organic farming promotion Scheme को बढ़ावा देने का काम कर रही है।” जैविक खेती प्रोत्साहन योजना 2019 के कार्यान्वयन के लिए सब्जी की खेती करने वाले किसान भाइयो / समूहों का चयन (Selection) कर, अनुदान पर जैविक उपादान का वितरण कराया जायेगा। इस योजना के तहत उन सभी किसानों को Cluster में Jaivik Kheti करने हेतु प्रोत्साहित किया जायेगा।

तो दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी, हमें कमेंट में जरूर बताएं।

ऐसी ही जानकारियो के लिए हमारे Telegram ग्रुप से जुड़े ।
telegram-button.

धन्यवाद 

Also Read: –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *